मलयालम फिल्म ‘जलीकट्टू’ को मिली ऑस्कर में एंट्री, 27 फिल्मों को छोड़ा पीछे

0

फिल्म चाहे हॉलीवुड की हो या फिर बॉलीवुड की, ऑस्कर अवॉर्ड सभी के लिए मायने रखते हैं. किसी फिल्म को ऑस्कर मिलना उसे ना सिर्फ बड़ा बना देता बल्कि उसे हर जमाने में याद रखा जाता है. इस बार हिंदुस्तान की तरफ से हिंदी नहीं बल्कि एक मलायलम फिल्म को ये मौका मिल गया है. 2019 में रिलीज हुई फिल्म जलीकट्टू ऑस्कर में देश का प्रतिनिधत्व करने वाली है.

भारत की तरफ से ऑस्कर में गई ये फिल्म

जलीकट्टू का निर्देशन लीजो जोस पेल्लिसेरी ने किया है. ऑस्कर के लिए नॉमिनेट होने से पहले इस फिल्म को टोरंटो अंतरराष्ट्रीय फिल्म महोत्सव में भी दिखाया गया था. उस समय भी इस फिल्म की जमकर तारीफ की गई थी. फिल्म की कहानी से लेकर निर्देशन तक, हर पहलू को काफी पंसद किया गया था. फिल्म को देख कई तरह की भावनाएं उमड़ कर आई थीं. अब जब जलीकट्टू को ऑस्कर में भी जगह मिलने जा रही है, तो उसके पीछे भी एक खास वजह है.

क्या है फिल्म में खास?

बताया जा रहा है जूरी को जलीकट्टू की थीम काफी ज्यादा प्रभावित कर गई है. फिल्म में दिखाया गया है कि इंसान, कई मायनों में जानवर से भी बदत्तर होते हैं.  हर किरदार ने दर्शकों संग कनेक्ट किया है और संदेश भी खू

27 फिल्मों को पीछे छोड़ नॉमिनेशन में आई जलीकट्टू

हिंदुस्तान की तरफ से भी 27 फिल्में रखी गई थीं. इस लिस्ट में छलांग, स्काई इज पिंक, गुलाबो सिताबो जैसी फिल्में भी शामिल थीं. लेकिन अब जब जलीकट्टू भारत का प्रतिनिधित्व करने जा रही है, तो हर कोई मेकर्स को शुभकामनाए दे रहा है. सभी को उम्मीद है कि ये फिल्म देश का नाम रोशन करने वाली है.

बसूरती से दिया गया है. इसी वजह से इस फिल्म को ऑस्कर के लिए नॉमिनेट किया गया है. लेकिन फिल्म के लिए ये राह भी इतनी आसान नहीं रही है.

जलीकट्टू की स्टारकास्ट की बात करें तो Antony Varghese, Chemban Vinod Jose, Sabumon Abdusamad जैसे सितारों ने शानदार काम किया था. कहने को फिल्म में सभी का एक समान रोल नहीं था, लेकिन हर कलाकार ने अपने काम से इंप्रेस कर दिया था.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *