पर्वतीय क्षेत्रों में बारिश से बढ़ने लगा गंगा का जलस्तर, बह रही चेतावनी रेखा से 1.29 मीटर नीचे

0

पर्वतीय क्षेत्रों में पिछले दो दिनों से लगातार हो रही बारिश से गंगा के जलस्तर में वृद्धि होने लगी है। सोमवार को ऋषिकेश में गंगा के जलस्तर में रविवार की तुलना में 30 सेंटीमीटर की वृद्धि दर्ज की गई। हालांकि अभी गंगा चेतावनी रेखा से 1.29 मीटर नीचे है।

विगत दिनों से पर्वतीय क्षेत्रों व खासकर गंगा और गंगा की सहायक नदियों की घाटियों में खासी बारिश हो रही है। जिससे गंगा के जलस्तर में भी वृद्धि होने लगी है। रविवार को गंगा के जलस्तर में सामान्य वृद्धि दर्ज की गई थी, जबकि सोमवार को ऋषिकेश में गंगा का जलस्तर लगातार बढ़ रहा है। सोमवार सुबह आठ बजे गंगा का जलस्तर 338.21 मीटर पहुंच गया था। ऋषिकेश में गंगा का चेतावनी निशान तीन 339.50 मीटर और खतरे का निशान 340.50 मीटर पर है।

केंद्रीय जल आयोग के मुताबिक गंगा के जलस्तर में लगातार वृद्धि हो रही है। पर्वतीय क्षेत्रों में लगातार बारिश के चलते अभी जलस्तर में और वृद्धि हो सकती है। वही ऋषिकेश और आसपास क्षेत्र में रविवार की सायं से लगातार बारिश जारी है। पिछले 12 घंटे में यहां 64.0 मिलीमीटर बारिश रिकॉर्ड की गई है।

उधर, मुनीकीरेती थाना क्षेत्र में ऋषिकेश-गंगोत्री और बदरीनाथ राष्ट्रीय राजमार्ग यातायात के लिए खुले हैं। पुलिस कंट्रोल रूम के मुताबिक ऋषिकेश-बदरीनाथ मार्ग पर रविवार सुबह करीब 5:45 बजे कौड़ियाला, व्यासी और देवप्रयाग के समीप मलवा आया था, जिसे हटा दिया गया है। करीब 8:00 बजे से बद्रीनाथ मार्ग पर यातायात सुचारू है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *