Doda Road Accident में 13 लोगों की मौत, 10 घायल, PM Modi सहित अन्य राजनीतिज्ञों ने जताया शोक

0

 जिला डोडा के ठाठरी इलाके में आज वीरवार सुबह हुए सड़क हादसे में 13 लोगों की मौत हो गई जबकि 10 अन्य गंभीर रूप से घायल हो गए। पुलिस ने बताया कि यह सड़क हादसा सुई गोवारी इलाके में पेश आया। ये सभी लोग मिनी बस में सवार थे। घायलों को उपचार के लिए डोडा जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। अभी भी कइयों की हालत गंभीर बनाई हुई है। अस्पताल प्रबंधन का कहना है कि घायलों का इलाज चल रहा है। वहीं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, भाजपा राष्ट्रीय प्रधान जेपी नड्डा सहित अन्य कई राजनीतिज्ञों ने शोक संतप्त परिवार के प्रति अपनी संवेदना व्यक्त करते हुए घायलों के जल्द स्वस्थ होने की प्रार्थना की है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने संदेश में लिखा कि जम्मू-कश्मीर में डोडा के ठाठरी के पास हुए सड़क हादसे से दुखी हूं। दुख की इस घड़ी में मैं शोक संतप्त परिवारों के प्रति संवेदना व्यक्त करता हूं। इसी के साथ प्रधानमंत्री ने हादसे में जान गंवाने वालों के परिजनों को पीएमएनआरएफ की ओर से दो-दो लाख रुपये दिए जाने जबकि घायलों को 50,000 रुपये देने की घोषणा भी की।

वहीं उपराज्यपाल मनोज सिन्हा ने भी इस हादसे पर गहरा शोक जाते हुए कहा कि जम्मू-कश्मीर के डोडा में दुखद सड़क दुर्घटना के बारे में सुनकर गहरा दुख हुआ। मेरी संवेदना उन परिवारों के लिए जिन्होंने अपने प्रियजनों को खो दिया है। जिला प्रशासन को मृतकों के परिवारों को तत्काल राहत और घायलों को सर्वोत्तम चिकित्सा सहायता प्रदान करने का निर्देश दिया है।

उपराज्यपाल सिन्हा ने इस बात का विश्वास दिलाया कि सरकार डोडा सड़क दुर्घटना में घायलों का इलाज सुनिश्चित करेगी। उन्होंने एलजी विवेकाधीन कोष से मृतक के परिजनों को दो लाख रुपये देने की घोषणा करते हुए कहा कि सड़क पीड़ित कोष से एक लाख रुपये तत्काल राहत के रूप में दिए जाएंगे। मैं स्वयं स्थिति की निगरानी कर रहा हूं और पीड़ित परिवारों को हर संभव सहायता दी जाएगी।

स्थानीय लोगों के अनुसार मिनी बस में सवार ये सभी यात्री डोडा से ठाठरी की ओर जा रहे थे। मिनी बस जब सुई गोवारी इलाके में पहुंची तो चालक वाहन पर से नियंत्रण खो बैठा और गाड़ी सीधा खाई में उतर गई। खाई में लुढ़कने के दौरान मिनीबस के टुकड़े-टुकड़े हो गए। उसमें सवार कई यात्री तो वाहन से निकल बाहर चट्टानों पर गिरे जिसकी वजह से उनकी मौके पर ही मौत हो गई। हालांकि इस हादसे के कुछ ही देर बाद सेना के जवान स्थानीय लोगों के साथ घटना स्थल पर पहुंच गए थे। स्थानीय लोगों का कहना है कि मिनी बस के परखचे उड़ गए थे। वहीं गाड़ी से इधर-उधर गिरे लोगों में आठ लोगों ने तो वहीं दम तोड़ दिया था।

घायलों की हालत भी काफी खराब थी। किसी केे सिर पर लगी थी तो कइयों की पसलियां तक टूट गई थी। फिर भी सेना के जवानों व लोगों ने सभी घायलों को मुख्य सड़क तक पहुंचाया और वहां से उन्हें डोडा जिला अस्पताल ले जाया गया। इस दौरान भी दो लोगों ने रास्ते में ही दम तोड़ दिया। वहीं अस्पताल प्रबंधन ने भी अभी तक दस लोगों के मरने की पुष्टि की है। उन्होंने यह भी कहा कि अभी भी कई घायल ऐसे हैं, जिनकी हालत काफी गंभीर है। ऐसे में मृतकों की संख्या बढ़ने की संभावना है। फिलहाल घायलों का इलाज चल रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *