हरिद्वार: देर रात कुंभ मेला क्षेत्र में बड़ा हादसा, एयर बैलून में हुआ ब्लास्ट

0

हरिद्वार के कुंभ मेला क्षेत्र में सोमवार देर रात बड़ा हादसा हो गया। रात करीब एक बजे कुंभ मेले के लिए लगाए गए एयर बैलून में ब्लास्ट हो गया। इस दौरान ऋषिकुल विद्यापीठ संस्कृत महाविद्यालय के तीन छात्र गंभीर रूप से घायल हो गए।

डॉक्टरों के अनुसार, तीनों छात्रों की हालत गंभीर बताई जा रही है। तीनों घायल छात्रों विनय जोशी, दीपक बहुगुणा और ललित भट्ट को रात में भी अस्पताल में भर्ती कराया दिया गया था। दो छात्रों को ऋषिकेश एम्स में भर्ती कराया गया है। वहीं, एक छात्र को कैलाश अस्पताल देहरादून में भर्ती कराया गया है। बैलून में इतना भयंकर ब्लास्ट हुआ कि तीनों के हाथों व पैरों की खाल तक उतर गई।

वहीं महाविद्यालय प्रबंधन ने बैलून लगाने वाली दीपाली डिजाइनिंग कंपनी पर भी लापरवाही का आरोप लगाया है। उनका कहना है कि अभी 15 दिन पहले भी बस स्टैंड में लगा बैलून महाविद्यालय परिसर में गिर गया था। वहीं, अब सोमवार रात को भी बैलून फटने से तीन छात्र गंभीर रूप से झुलस गए है।

जानकारी के अनुसार, रात करीब एक बजे ऋषिकुल महाविद्यालय परिसर के बराबर में कुंभ मेले के लिए बनाये गए अस्थायी बस स्टैंड में लगा एयर बैलून महाविद्यालय के परिसर में आ गिरा।

बैलून के वहां गिरते ही उसमें ब्लास्ट हो गया। बैलून के फटते ही मौके पर अफरा तफरी मच गई। आनन फानन इसकी जानकारी कुंभ मेला पुलिस को दी गई। मौके पर पहुंची प्रशासन की टीम द्वारा हादसे की जांच की जा रही है।

बता दें कि कुंभ की भव्यता को दर्शाने के लिए शहर में जगह-जगह एयर बैलून लगाए गए हैं। जिस पर कुंभ का स्लोगन भी लिखा गया है। ऐसे में कुछ ही दिन में दो बार बैलून का गिरना कंपनी की कार्यप्रणाली पर भी सवाल उठा रहा है।

एसडीएम सदर गोपाल सिंह चौहान का कहना है कि गैस कम होने के कारण बैलून खुद ही नीचे आने लगता है। यह बैलून लगाने वाली कंपनी की जिम्मेदारी होती है कि वह समय-समय पर बैलून में गैस चेक करे। रात करीब एक बजे कुछ छात्र शौचालय के लिए महाविद्यालय के परिसर में आए थे। ये छात्र परीक्षा देने के लिए हॉस्टल में ही रुके हुए थे।

जिस दौरान वे बैलून के फटने से उसकी चपेट में आ गए। तीनों छात्र आईसीयू में हैं। ये बड़ी लापरवाही है। इससे पहले भी बैलून गिरने की घटना होने के बाद भी कंपनी ने एहतियाती कदम नहीं उठाए। जिस कंपनी की भी लापरवाही सामने आएगी उस पर एक्शन लिया जाएगा।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *