अयोध्या में श्रीराम मंदिर निर्माण के लिए सीएम त्रिवेंद्र की अपील, कल घरों में मनाएं दीपावली, जलाएं दीये

0

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने प्रदेश वासियों से अपील की कि वे आज (बुधवार) को अयोध्या में श्रीराम मंदिर निर्माण के लिए भूमि पूजन पर अपने घरों में दीपावली मनाएं और दीये जलाएं।

मुख्यमंत्री राज्य सचिवालय में मीडिया कर्मियों से बातचीत कर रहे थे। मुख्यमंत्री ने कहा कि बुधवार पांच अगस्त को देश के लिए स्वर्णिम अवसर आ रहा है। जब देश के यशस्वी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अयोध्या में श्रीराम जन्मभूमि पर भव्य एवं दिव्य श्रीराम मंदिर निर्माण का भूमि पूजन करेंगे।
उन्होंने कहा कि राममंदिर के लिए हजारों लोगों ने बलिदान दिए। सैकड़ों युद्ध इसके लिए लड़े गए। जो हमारी संस्कृति के मान बिंदु हैं, जिनका सबका सम्मान जुड़ा हुआ है, उन स्थानों को अत्याचारियों द्वारा नष्ट करने का प्रयास किया गया। आज एक ऐसी सरकार, ऐसे सर्वोच्च न्यायालय ने निर्णय दिया। हम सब के लिए बहुत सौभाग्य की बात है।
उन्होंने प्रदेश वासियों से अपील की है कि हम इस अवसर पर अपने घरों में दीपावली मनाएं, दिये जलाएं। भगवान श्रीराम दुनिया के एकमात्र ऐसे चरित्र हैं, जिन्हें मर्यादा पुरुषोत्तम के नाम से जाना जाता है। उन्होंने भगवान श्रीराम जन्मभूमि के लिए बलिदानियों का स्मरण भी किया।

मुख्यमंत्री ने कहा कि अयोध्या में बनने वाला श्रीराम मंदिर करोड़ों लोगों की आस्था से जुड़ा है। भगवान श्रीराम सनातन संस्कृति, मानवता, नैतिकता, प्रेम व सद्भाव का प्रतीक हैं। भगवान श्रीराम का यह मंदिर देश व दुनिया में अपनी विशिष्टता के लिए पहचाना जाएगा। जब प्रधानमंत्री श्रीराम जन्मभूमि पर भूमि पूजन करेंगे। इसका साक्षी बनने के लिए देश और समाज के सभी क्षेत्रों एवं वर्गों में काफी उत्साह है।

गढ़वाली में प्रसारित होगी रामायण 
अयोध्या में राममंदिर भूमि पूजन के अवसर पर बुुधवार को संस्कृति विभाग के माध्यम से गढ़वाली रामायण का प्रसारण किया जाएगा। दूरदर्शन पर शाम 7.30 बजे से 8.00 बजे तक प्रसारण किया जाएगा।

पर्यटन एवं संस्कृति मंत्री सतपाल महाराज ने बताया कि बुधवार को धर्मनगरी अयोध्या में बुधवार को राम मंदिर निर्माण के लिए भूमि पूजन होगा। यह दिन हिंदू संस्कृति के लिए एतिहासिक है। इसलिए संस्कृति विभाग की ओर से दूरदर्शन पर गढ़वाली रामायण का विशेष प्रसारण किया जाएगा।
5100 घी के दियों से जगमगाएगा मुख्यमंत्री आवास
अयोध्या में श्रीराम मंदिर शिलान्यास पर बुधवार को मुख्यमंत्री आवास 5100 घी के दियों से जगमगाएगा। उधर, प्रदेश भाजपा कार्यालय पर दीपोत्सव के साथ सुंदर कांड का पाठ होगा। पार्टी के वरिष्ठ पदाधिकारी इस कार्यक्रम में शामिल होंगे।

मुख्यमंत्री के मीडिया सलाहकार दर्शन सिंह रावत के मुताबिक, मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने प्रदेश वासियों से भी घरों में दीपोत्सव मनाने की अपील की है। उधर प्रदेश भाजपा अध्यक्ष बंशीधर भगत के निर्देश पर प्रदेश और जिला कार्यालय में  दीपोत्सव व रंगोली के कार्यक्रम होंगे। इस दौरान सुंदर कांड का पाठ होगा। कार्यक्रम में भाजपा प्रदेश अध्यक्ष, प्रदेश महामंत्री (संगठन), वरिष्ठ पदाधिकारी उपस्थित रहेंगे।

इस दौरान सामाजिक दूरी का पूरा ध्यान रखा जाएगा। भाजपा प्रदेश उपाध्यक्ष व मीडिया प्रभारी डॉ. देवेंद्र भसीन के अनुसार अयोध्या से भूमि पूजन का सीधा प्रसारण होगा। पार्टी कार्यालय में सीधा प्रसारण बड़े पर्दे पर देखा जाएगा। साढ़े चार बजे से सुंदर कांड का पाठ और सूर्यास्त होने पर पार्टी कार्यालय दीपक की रोशनी से जगमगाएगा। भाजपा प्रदेश कार्यालय के अतिरिक्त प्रदेश में संभाग कार्यालय हल्द्वानी, जिला कार्यालयों व कार्यकर्ताओं व जन सामान्य द्वारा अपने अपने स्थानों व निवास पर दीपोत्सव मनाया जाएगा।
राम मंदिर के भूमि पूजन में शामिल होंगे सतपाल महाराज
राममंदिर भूमि पूजन कार्यक्रम में पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज शामिल होंगे। विश्व हिंदू परिषद के निमंत्रण पर महाराज अयोध्या पहुंच गए हैं।  महाराज ने बताया कि उत्तराखंड की जनता और पर्यटन विभाग की ओर से गंगा और यमुना जल से भरे कलश पूर्व में ही अयोध्या पहुंचा दिए गए हैं। ताकि इस पवित्र जल से भगवान राम का अभिषेक हो सके। उन्होंने मर्यादा पुरुषोत्तम राम से प्रार्थना करते हुए कहा है कि भगवान राम हमारे सैनिकों और कोरोना वॉरियर्स को सशक्त बनाएं।

जिससे आंतरिक और बाह्य रूप से देश की रक्षा हो सके। राम मंदिर निर्माण भूमि पूजन समारोह मुहूर्त की चर्चा को लेकर महाराज कहा कि  मंगल भवन अमंगल हारी सारे अमंगलों को दूर करने वाले प्रभु श्रीराम हैं।

अयोध्या में राम जन्मभूमि में मंदिर निर्माण के लिए जिस मुहूर्त में भूमि पूजन के समय का निर्धारित किया गया है, वह अभिजीत मुहूर्त हैं। भगवान श्रीराम का जन्म भी अभिजीत मुहूर्त में हुआ था, इसलिए यह समय शुभ फलदायक सर्वार्थ सिद्धि योग का समय है। मान्यता है कि इस मुहूर्त में किए जाने वाले सभी शुभ कार्य सफल होते हैं। इसीलिए राम मंदिर निर्माण के लिए होने वाले भूमि पूजन का समय अभिजीत मुहूर्त में निर्धारित किया गया है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *