उत्तराखंड के सबसे कम उम्र के CM बने पुष्कर धामी, मंत्रिमंडल समेत ली शपथ

0

पुष्कर सिंह धामी उत्तराखंड के 11वें मुख्यमंत्री बन गए। वह उत्तराखंड के अब तक के सबसे युवा मुख्यमंत्री हैं। रविवार को राजभवन में हुए समारोह में राज्यपाल बेबी रानी मौर्य ने नए मुख्यमंत्री और उनके मंत्रिमंडल के सभी 11 सदस्यों को पद एवं गोपनीयता की शपथ दिलाई। पुष्कर मंत्रिमंडल में पिछली तीरथ सरकार के सभी मंत्रियों को जगह मिली।

तीन स्वतंत्र प्रभार राज्य मंत्रियों डा धन सिंह रावत, रेखा आर्य और स्वामी यतीश्वरानंद का कद बढ़ाकर उन्हें कैबिनेट मंत्री बनाया गया है। शपथ ग्रहण करने वाले अन्य मंत्रियों में सतपाल महाराज, डा हरक सिंह रावत, बंशीधर भगत, यशपाल आर्य, सुबोध उनियाल, अरविंद पांडेय, गणेश जोशी शामिल हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृह मंत्री अमित शाह, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने नए मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी को बधाई दी। भाजपा विधायक दल की बीते रोज पार्टी के प्रदेश मुख्यालय में हुई बैठक में खटीमा से दूसरी बार के विधायक पुष्कर सिंह धामी को मुख्यमंत्री बनाने के फैसले पर मुहर लगाई गई थी।

पार्टी के फैसले से कुछ वरिष्ठ विधायक हो गए थे खफा

युवा चेहरे को मुख्यमंत्री पद पर तरजीह देने के पार्टी के फैसले से बीते रोज कुछ वरिष्ठ विधायक खफा हो गए थे। उनके शपथ ग्रहण से कन्नी काटने की चर्चा रही। रविवार दिनभर शपथ ग्रहण से पहले वरिष्ठों के मान-मनुहार का सिलसिला चला।

पुष्कर सिंह धामी ने नाराज बताए जा रहे सतपाल महाराज से उनके आवास पर जाकर मुलाकात की। नाराजगी दूर होने के बाद मुख्यमंत्री के साथ ही सभी वरिष्ठ विधायक राजभवन पहुंचे।

20 मिनट चला शपथ ग्रहण समारोह

राजभवन में सवा पांच बजे शुरू हुआ शपथ ग्रहण समारोह करीब 20 मिनट चला। संचालन मुख्य सचिव ओमप्रकाश ने किया।

समारोह में पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत व तीरथ सिंह रावत, विधानसभा अध्यक्ष प्रेम चंद अग्रवाल, भाजपा के राष्ट्रीय महामंत्री दुष्यंत कुमार गौतम, प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक, सांसद माला राज्यलक्ष्मी शाह, अजय भट्ट, अजय टम्टा व नरेश बंसल, कांग्रेस विधायक राजकुमार, भाजपा के कई विधायक, शासन के आला अधिकारी एवं गणमान्य लोग मौजूद थे।

मुख्‍यमंत्री पुष्‍कर सिंह धामी ने कहा कि प्रदेश को विकास के पथ पर निरंतर अग्रसर बनाए रखने के लिए सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास के मूल मंत्र पर सरकार काम करेगी। अंतिम छोर पर खड़े व्यक्ति तक विकास का लाभ पहुंचाने के प्रति हमारी प्रतिबद्धता है। युवाओं का प्रतिनिधित्व करता हूं। उनकी समस्याओं की जानकारी है। नौजवानों को रोजगार और उन्हें साथ लेकर चला जाएगा। सरकार के रूप में नहीं, बल्कि जनता के साझीदार के रूप में काम करूंगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *