सरकार ने तैयार किया महाकुंभ में रोजाना 50 हजार कोविड जांच का रोडमैप 

0

हरिद्वार महाकुंभ में प्रतिदिन 50 हजार कोविड जांच करने का रोडमैप प्रदेश सरकार ने तैयार कर लिया है। हरिद्वार में प्रतिदिन 35 हजार जांच करने की तैयारी की जा चुकी है। प्रदेश सरकार के सामने इस समय जांच बढ़ाने का बड़ा संकट है। कोरोना संक्रमण की दर में लगातार इजाफा हो रहा है। दूसरी ओर, अप्रैल में कुंभ की विधिवत शुरूआत भी की जा चुकी है। हाईकोर्ट का साफ आदेश है कि कुंभ में प्रतिदिन 50 हजार जांच की जाएं।

इसी को देखते हुए प्रदेश सरकार ने जांच का दायरा भी बढ़ाया है। चार अप्रैल को पूरे प्रदेश में करीब 30 हजार सैंपल लिए भी गए। इसमें से अकेले हरिद्वार जिले में करीब 21 हजार जांच की गई हैं।

अब कुंभ मेला से संबंधित क्षेत्रों में 50 हजार जांच प्रतिदिन करने का रोडमैप सरकार ने बना लिया है। इसके तहत हरिद्वार में कुंभ क्षेत्र में प्रतिदिन 35 हजार जांच की जाएंगी। कुंभ क्षेत्र में अन्य जिलों के क्षेत्र भी शामिल हैं। इन जिलों में जांच का दायरा बढ़ाकर 50 हजार सैंपल प्रतिदिन तक किया जाएगा।

लंबित मामलों के बढ़ने का भी है खतरा
जांच का दायरा बढ़ाने पर एक खतरा लंबित मामलों के बढ़ने का भी है। चार अप्रैल को ही करीब 30 हजार सैंपल के परिणाम सामने नहीं आ पाए थे। अब तक प्रदेश में 28.11 लाख सैंपल लिए जा चुके हैं।

मुख्यमंत्री ने भी लिया फीडबैक, जांच बढ़ाने को कहा
मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने रविवार को इस मामले में मेला अधिकारियों से बात की और जांच की संख्या बढ़ाने को कहा। मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को अधिक से अधिक जांच करने को कहा है।

50 हजार जांच प्रतिदिन का लक्ष्य जल्द ही हासिल कर लिया जाएगा। इसका रोडमैप तैयार कर लिया गया है। कुंभ को देखते हुए सरकार का फोकस हरिद्वार पर भी है। यहां अधिक से अधिक जांच होंगी। मेला प्रशासन ने बताया है कि 35 हजार जांच प्रतिदिन करने की व्यवस्था कर ली गई है। जरूरत पड़ी तो यह संख्या और बढ़ाई जाएगी।
– तीरथ सिंह रावत, मुख्यमंत्री, उत्तराखंड

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *